Call for Astrological help:   +91 9888333396
संवत 2073 के शुक्र राजा और मंत्री बुध

संवत 2073 के शुक्र राजा और मंत्री बुध
 
आपके और हमारे बीच सितारों की सत्ता परिवर्तित हो रही है. ग्रहों ने अपना राजा चुन लिया है। बस 8 अप्रैल 2016 को ताजपोशी होनी है. ग्रह - मंडल के नेता चुने गए हैं शुक्र. चैत्र नवसंवत्सर की प्रतिपदा को वह राजा बनेंगे. यूं तो बहुत मंत्री होंगे लेकिन बुध महाराज प्रमुख मंत्री होंगे. वित्त और गृह मंत्रालय शुक्र के पास रहेगा. इससे माना जा रहा है कि आने वाला नया साल महिलाओं के नाम रहेगा.
नवसंवत्सर 2072 के राजा शनि और मंत्री मंगल थे. 2073 की सत्ता शुक्र के हाथ में आ रही है. शुक्र की सत्ता में वापसी चार साल बाद हो रही है.
8 अप्रैल को विक्रमी संवत 2073 का शुभारम्भ हो रहा है. प्रतिपदा एक दिन पहले यानी सात अप्रैल से प्रारम्भ हो जाएगी लेकिन सूर्योदय से यह लागू होगी. इसलिए सितारों का नया मंत्रिमंडल भी नवरात्र के पहले दिन पदारूढ़ होगा.
2073 सवंत्सर का नाम भी सौम्य होगा. नाम के अनुरूप उसकी प्रवृत्ति भी सौम्य रहेगी. सौम्य संवत के अधिष्ठाता भगवान शंकर रहेंगे. शंकर जी कल्याण के देव हैं सो इस साल कल्याण ही कल्याण होगा. सौम्य संवत में जन सुविधाएं बढ़ेंगी. राजनीति में महिलाओं का वर्चस्व होगा.
शुक्र जिस व्यक्ति का अच्छा है या फिर जिसकी शुक्र की महादशा या अंतर्दशा चल रही है और उसकी कुण्डली में शुक्र शुभ भाव का स्वामी हो या शुभ भाव में स्थित हो उनके लिए शुक्र महा शुभ परिणाम दायक होगा.सौन्दर्य प्रशाधन आदि मंहगे होंगे भारत की अर्थ व्यवस्था मजबूत होगी.||
 
आपकी कुंडली में छुपा हे आपकी सफलता का राज
 
ज्योतिष परामर्श के लिए संपर्क करें
 
Shastri Jatinder ji  +91 9888333396


ASK A QUESTION